उसके रिकॉर्ड को… वर्ल्ड कप से पहले खूंखार ओपनर को नजरअंदाज करने पर द्रविड़ पर फूटा पूर्व सेलेक्टर का गुस्सा


हाइलाइट्स

शिखर धवन वर्ल्ड कप से पहले वनडे टीम से बाहर हैं
धवन को विंडीज दौरे के पर नहीं चुना गया

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सेलेक्टर सुनील जोशी (Sunil Joshi) ने शिखर धवन (Shikhar Dhawan) को नजरअंदाज करने पर टीम इंडिया के हेड कोच राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) की जमकर आलोचना की है. जोशी का कहना है कि धवन का आईसीसी टूर्नामेंट में रिकॉर्ड बेजोड़ हैं , और उसे ध्यान में रखते हुए लेफ्ट हैंड अनुभवी ओपनर को टीम से नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए. धवन को विंडीज दौरे के लिए टीम से बाहर रखा गया जबकि एशियाई गेम्स के लिए चुनी गई टीम में भी उन्हें जगह नहीं मिली. धवन को इस तरह से नजरंदाज करना इस बात का संकेत है कि वह विश्व कप की रेस में नहीं हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक सुनील जोशी टीम इंडिया के गब्बर को ड्रॉप किए जाने से बेहद दुखी हैं. उन्होंने कहा कि धवन का आईसीसी टूर्नामेंट में ऐसा रिकॉर्ड है जिसे आप नजरअंदाज नहीं कर सकते. उन्होंने कहा कि धवन को खुद को फिट और तैयार रखने के लिए विंडीज दौरे पर टीम में होना चाहिए था.

किसी फैशन मॉडल से कम नहीं कैरेबियाई विकेटकीपर की वाइफ, बिकिनी में देती हैं किलर पोज

लगातार 5 छक्के जड़ने वाले बेरहम बैटर की पलटी किस्मत, एशियन गेम्स से पहले करेगा इंटरनेशनल डेब्यू!

हमने हमेशा उसे बैकअप ओपनर के रूप में टीम में रखा
सुनील जोशी ने कहा, ‘ आप शिखर धवन के व्हाइट बॉल क्रिकेट में आंकड़े देखें. वह वनडे फॉर्मेट में उपयोगी खिलाड़ी हैं. खासतौर पर इंडिया में. उसके आईसीसी टूर्नामेंट में अनुभव और शानदार रिकॉर्ड को नजरअंदाज नहीं किया जाना चाहिए. नेशनल सेलेक्शन कमेटी में मेरे कार्यकाल के दौरान हमने हमेशा धवन को व्हाइट बॉल क्रिकेट में बतौर बैकअप ओपनर रखा. इसलिए हमने उन्हें 2021 में श्रीलंका दौरे पर टीम इंडिया का कप्तान बनाकर भेजा.’

विंडीज दौरे पर युवा टीम भेजने की दी सलाह
भारतीय टीम इस समय विंडीज दौरे पर है. वर्ल्ड कप के आयोजन में अब सिर्फ 2 महीने का समय बचा है और ऐसे में भारतीय टीम अभी अपना बेस्ट संयोजन तलाशने में जुटी है. विंडीज के खिलाफ दूसरे वनडे में विराट और रोहित शर्मा को आराम दिया गया जिसके बाद राहुल द्रविड़ की खूब आलोचना हुई. सुनील जोशी का भी कहना है कि विंडीज दौरे पर किसी युवा टीम को भेजना चाहिए था क्योंकि विंडीज टीम को वर्ल्ड में हिस्सा नहीं लेना है. ऐसे में विराट और रोहित सरीखे अनुभवी खिलाड़ियों को आराम मिल जाता और कैरेबियाई दौरे पर कई खिलाड़ियों को परखने का मौका भी मिल जाता.

Tags: ODI World Cup, Shikhar dhawan, Team india

Leave a Comment