एशेज सीरीज में बॉलगेट पर हंगामा, इंग्लैंड की जीत पर उठे सवाल, वर्ल्ड चैंपियन कप्तान ने कहा- जांच हो


नई दिल्ली. इंग्लैंड ने एशेज सीरीज के 5वें मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को 49 रनों से हराया. 384 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए कंगारू टीम ने चौथे दिन का खेल खत्म होने पर बिना विकेट के 135 रन बना लिए थे, लेकिन अंतिम दिन उसने अपने सभी 10 विकेट गंवा दिए. पूरी टीम 334 रन पर ऑलआउट हो गई. अब मैच में बॉलगेट विवाद ने जोर पकड़ लिया है. ऑस्ट्रेलिया के वर्ल्ड चैंपियन कप्तान रिकी पोंटिंग ने इस मामले की जांच की मांग तक कर डाली है. आइए आपको इस पूरी घटना के बारे में बताते हैं. मैच की बात करें, तो इंग्लैंड ने पहली पारी में 283 रन बनाए थे. जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने 295 रन बनाए. उसे 12 रन की बढ़त मिली. इंग्लिश बैटर्स ने दूसरी पारी में अच्छा प्रदर्शन किया और टीम 395 रन बनाने में सफल रही.

बॉलगेट की बात करें, तो मैच के चौथे दिन अंतिम सेशन में तेज गेंदबाज मार्क वुड की बॉल उस्मान ख्वाजा के हेलमेट पर लगी थी. इसके बाद अंपायर्स ने गेंद बदलने का फैसला किया. अभी गेंद से सिर्फ 40 ओवरों का खेल हुआ था. इसके बाद बारिश के कारण चौथे दिन का खेल नहीं हाे सका. 5वें दिन सुबह बदली हुई गेंद का इंग्लैंड को फायद मिला. क्रिस वोक्स और वुड ने इसका फायदा उठाया. रिकी पोंटिंग मैच में स्काई स्पोर्ट्स पर कॉमेंट्री कर रहे थे. उन्होंने कहा कि यह ब्लंडर है.

गेंदबाजों को मिलने लगी स्विंग
रिकी पोंटिंग ने कहा कि गेंद में बदलाव के बाद पूरा खेल ही बदल गया. इससे पहले ऑस्ट्रेलिया के बैटर्स का दबदबा था, लेकिन 5वें दिन इंग्लैंड की टीम हावी हो गई. उन्होंने कहा इसकी जांच की जानी चाहिए. वहीं इंग्लैंड के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने भी स्वीकार किया कि अंपायर्स का गेंद बदलने का निर्णय सही नहीं था. मैच में वेस्टइंडीज के जोएल विल्सन और श्रीलंका के कुमार धर्मसेना मैदानी अंपायर थे. गेंद बदले जाने के बाद इंग्लैंड के बॉलर्स को अच्छी खासी स्विंग मिलने लगी.

गेंद बदलने को बताया शर्मनाक
मालूम हो कि गेंद बदले जाने के पहले तक ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज 16 फीसदी गेंद मिस कर रहे थे, जो गेंद बदले जाने के 10 ओवर बाद बढ़कर 38 फीसदी हो गया. इस दौरान ऑस्ट्रेलियाई टीम ने 3 विकेट भी खोए. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान मार्क टेलर ने सोशल मीडिया पर लिखा कि नई गेंद अधिक हार्ड दिख रही है. वहीं ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल ने लिखा कि दूसरी नई गेंद से सावधान रहना चाहिए. ऑस्ट्रेलियाई मीडिया ने इसे बॉलगेट कहा है. टेलीग्राफ ने गेंद बदले जाने को शर्मनाक बताया.

एशेज खत्म होते ही मचा बवाल, इंग्लिश टीम ने ऑस्ट्रेलिया के साथ नहीं मनाया जश्न, स्टोक्स ने कहा- हम नाइट क्लब…

द सिडनी मॉर्निंग हेराल्ड ने रिकी पोंटिंग के बयान को प्रमुखता से लेते हुए लिखा है कि यह बड़ा ब्लंडर है और इसकी जांच होनी चाहिए. मालूम हो कि एक समय ऑस्ट्रेलिया का स्कोर  बिना विकेट के 140 रन था, जो बाद में 3 विकेट पर 169 रन हो गया. उस्मान ख्वाजा ने 72 तो डेविड वॉर्नर ने 60 रन बनाए. स्टीव स्मिथ ने भी 54 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली. इंग्लैंड की ओर से तेज गेंदबाज क्रिस वोक्स ने सबसे अधिक 4 विकेट लिए. इसके अलावा ऑफ स्पिनर मोईन अली को 3 जबकि स्टुअर्ट ब्रॉड 2 विकेट मिला. वोक्स ने पहली पारी में भी 3 विकेट लिए थे. उन्हाेंने प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला. वोक्स और मिचेल स्टार्क दोनों को संयुक्त रूप से प्लेयर ऑफ द सीरीज चुना गया. वोक्स ने सीरीज में 19 तो बाएं हाथ के तेज गेंदबाज स्टार्क ने सबसे अधिक 23 विकेट झटके.

Tags: Ashes, Australia, England, Ricky ponting

Leave a Comment